संदेश

December 11, 2015 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

छत्तीसगढ़ के डाक्टर साहब रमनसिंह

-मनोज कुमार छत्तीसगढ़ राज्य और डॉ. रमनसिंह एक-दूसरे के पर्याय बन चुके हैं। छत्तीसगढ़ राज्य की जब भी बात होगी, डॉ. रमनसिंह के बिना अधूरी होगी। एक नये राज्य की सत्ता की डोर 12 सालों से सम्हालने वाले डॉ. रमनसिंह ने छत्तीसगढ़ को एक नया स्वरूप दिया है। पिछड़े और अविकसित राज्य की छाप को खत्म कर विकसित और संसाधनों से भरपूर राज्य की परिभाषा गढ़ी है और पूरी दुनिया के सामने छत्तीसगढ़ को लेकर एक नई इमेज क्रियेट की है। यह वही डॉक्टर साहब हैं जो कभी बीमार लोगों की नब्ज पकड़ कर उनकी बीमारी दूर करते थे लेकिन आज उनके ही हाथों में आज छत्तीसगढ़ की नब्ज है. वे राज्य की बीमारी को भी जानते हैं और उसमें छिपी संभावनाओं को भी और बीमारी का इलाज भी उनके पास है इसलिये छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉक्टर रमनसिंह एक ऐसे व्यक्ति का नाम है जो मुखिया बनकर छत्तीसगढ़ राज्य को विकास की तरफ ले जाने की दिशा में अग्रसर हैं. सन् दो हजार में जब छत्तीसगढ़ स्वतंत्र राज्य की हैसियत से भारत के नक्शे पर आया तब किसी ने यकिन नहीं किया था कि राज्य की चमक इस तरह बिखरेगी लेकिन ऐसा हुआ. आरंभ के तीन वर्ष जरूर छत्तीसगढ़ के लिये गुमनामी के रहे…