बहस

यह कैसा राज्योत्सव?
मनोज कुमार
साल 1956 के एक नवम्बर को जन्मे मध्यप्रदेश की सर्जरी सन् 2000 में उसी तारीख को हुई थी। इस सर्जरी से मध्यप्रदेश का एक बड़ा हिस्सा अलग हो गया जिसे स्वतंत्र छत्तीसगढ़ राज्य के नाम से पुकारा गया। विकास के नाम पर छत्तीसगढ़ को पृथक राज्य का दर्जा तो दे दिया गया किन्तु विकास कितना हुआ, यह बहस का विषय है। फिलहाल तो बात कर रहे हैं उस ऐतिहासिक भूल की जिसे मध्यप्रदेश पिछले 9 वर्षों से कर रहा है। एक नवम्बर को छत्तीसगढ़ राज्य बन जाने पर राज्योत्सव मनाया जाना तो ठीक है किन्तु मध्यप्रदेश अपने विखंडित स्वरूप् में अपनी स्थापना दिवस का जश्न मनाये, यह मामला थोड़ा अनुचित लगता है। इस मुद्दे पर चर्चा होनी चाहिए कि मध्यप्रदेश का राज्योत्सव मनाया जाना कितना उचित है।
साथियों, यदि आप मध्यप्रदेश से वास्ता रखते हैं तो और नहीं रखते हैं तो भी, इस विषय पर अपनी राय जरूर भेजें। @जीमेल.com

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

इलेक्ट्रॉनिक माध्यम या मुद्रित माध्यमों का व्यवसायिकरण

मीडिया का बाजारवाद

रिसर्च जर्नल ‘समागम’ का अंक रेडियो पर